Home » , » Cyclonic storm “Hudhud” / समुद्री तूफान ‘हुदहुद’

Cyclonic storm “Hudhud” / समुद्री तूफान ‘हुदहुद’

Written By Easy Life on Thursday, October 9, 2014 | 10/09/2014 03:21:00 PM

In wake of the cyclonic storm “Hudhud” , National Disaster Response Force (NDRF) has placed its 05 Battalions situated at Tamilnadu, Andhra Pradesh, Odisha, West Bengal and Bihar on high alert. These NDRF battalions comprise 51 teams. 

In the state of AP, 06 rescue and relief teams have already been deployed at Srikakulam -02, Vijay Nagaram 01, Visakhapattam - 02 and East Godavari - 01 teams. 

In Odisha, 09 NDRF teams are being considered for deployment in district Gajpatti - 01, Ganjam - 03, Khurda - 02, Cuttak - 01, Puri - 01 and Balasore 01. 

04 teams each from NDRF Patna, Kolkota and Chennai battalions are moving towards Odisha and AP state. 

A total of 27 teams are being deployed in vulnerable areas as a proactive measure to mitigate the situation during cyclonic storm. 

One DIsG each has been stationed at Visakhapattam and Bhubaneswar to supervise the NDRF operations. 

Total 162 boats and 54 deep diving sets with other flood rescue equipments are being sent to meet any challenges which may arise due to cyclonic storm ‘Hudhud’. 


पूर्वी तट पर समुद्री तूफान हुदहुद के आने की संभावना को देखते हुए राष्‍ट्रीय आपदा कार्रवाई बल की 5 बटालियनों को हाई-अलर्ट पर रख दिया गया है। ये बटालियनें तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्‍चिम बंगाल और बिहार में तैनात हैं। इन एनडीआरएफ बटालियनों में 51 टीमें शामिल हैं। 

आंध्र प्रदेश में छ राहत और बचाव टीमें तैनात की दी गई हैं। इनमें से दो श्रीकाकुलम, एक विजयनगरम्, दो विशाखापत्‍तनम और एक टीम ईस्‍ट गोदावरी जिले में तैनात की गई है। 

ओडिशा में नौ टीमें तैनात करने पर विचार किया जा रहा है। एक टीम गजपति, तीन गंजम, दो खुरदा और एक-एक टीमें कटक, पुरी और बालेश्‍वर में तैनात करने पर विचार किया जा रहा है। 

एनडीआरएफ पटना, कोलकाता और चेन्‍नई से चार-चार बटालियनें ओडिशा और आंध्र प्रदेश के लिए रवाना हो रही हैं।

कुल मिलाकर 27 टीमें उन जगहों पर तैनात की जा रही हैं जहां इनकी जरूरत पड़ सकती है। समुद्री तूफान के इन स्‍थानों पर टकराने की संभावना है। 

विशाखापत्‍तनम और भुवनेश्‍वर में एक-एक डीआईजी स्‍तर का अधिकारी तैनात किया जाएगा जो एनडीआरएफ कार्यों का निरीक्षण करेगा। 

कुल मिलाकर 162 नावें भेजी जा रही हैं। 54 गोताखोर तथा बाढ़ में बचाव करने वाले उपकरणों सहित लोगों को भी भेजा जा रहा है ताकि वे समुद्री तूफान के कारण पैदा होने वाली किसी भी चुनौती का सामना कर सकें। 
Share this article :
 
Copyright © 2015. CENTRAL GOVERNMENT EMPLOYEES NEWS - All Rights Reserved
Proudly powered by Blogger